गुरुवार, 17 दिसंबर 2009

यह सब सच है !!!

* नीलगिरि के जंगलों में पाये जाने वाले गिरगिट की जीभ उसके शरीर की लंबाई से तीन गुनी लंबी होती है।          इसका कद करीब 45 से।मी। होता है जबकि जीभ 1.25 मी. लंबी होती है। अफ्रीका और मेडागास्कर के जंगलों    में पाये जाने वाले गिरगिटों की जीभ तो दो मीटर लंबी पायी गयी हैं।

* पेंसिल को लेड़ पेंसिल के नाम से जाना जाता है, पर वह ग्रेफाइट और चिकनी मिट्टी के मिश्रण से बनती है।

* अंग्रेजों के समय में “कोर आफ गाइड्स” नामक पल्टन के कर्नल ने सबसे पहले खाकी रंग के कपड़ों को              अपनाया था, क्योंकि उसके अनुसार इसे पहन कर जमीन पर लेटा आदमी दूर से नज़र नहीं आ पाता।

* बुड़ापेस्ट, एक नगर नहीं, बल्कि दो शहरों के नाम से मिल कर बना है। ड़ेन्यूब नदी के एक किनारे बुडा तथा        दूसरी ओर पेस्ट नगर बसे हुए हैं।

* इसी तरह बिस्कुट जिसे रोज लाखों लोग खाते हैं, वह भी दो शब्दों से मिल कर बना है। बिस और कुट जो फ्रेंच      भाषा के शब्द हैं, जिनका अर्थ है दो बार पकाया हुआ।

* “ट्रैफिक जाम” आधुनिक युग की देन नहीं है। इसके कारण जूलियस सीजर को भी आदेश पारित करना पड़ा       था कि रोम में दिन के समय कोई पहियेदार वाहन नहीं चलेगा।

7 टिप्‍पणियां:

निर्मला कपिला ने कहा…

बहुत बडिया धन्यवाद्

हिमांशु । Himanshu ने कहा…

बहुत-सी जानकारी मिली । आभार ।

महफूज़ अली ने कहा…

बहुत बडिया जानकारी मिली । आभार ।

ललित शर्मा ने कहा…

बहुत बडिया जानकारी मिली,धन्यवाद्

परमजीत बाली ने कहा…

अच्छी जानकारी दी।आभार।

प्रीति टेलर ने कहा…

rochak jaankari di aapne ...

भारतीय नागरिक - Indian Citizen ने कहा…

वाह, बढिया.